0

Funny Shayari | khushee jaldee mein thee rukee nahin

ख़ुशी जल्दी में थी रुकी नहींग़म फुरसत में थे ठहर गए !“लोगों की नज़रों में फर्क अब भी नहीं हैपहले मुड़ कर देखते थे अब देख कर मुड़ जाते हैं आज परछाई से पूछ ही लियाक्यों चलती हो मेरे साथउसने भी हँसके… Continue Reading