0

Love Shayari | dil mein vo kyoon utar nahin jaata

दिल में वो क्यूँ उतर नहीं जाता जो मुझे छोडकर नहीं जाता उँगलिया फेर मेरे बालों में ये मेरा दर्दे सर नहीं जाता इश्क़ इतना भी क्या ज़रूरी है कोई बेइश्क़ मर नहीं जाता